अररिया नहीं मान रहे हैं लोग स्थानीय प्रशासन के गाइड लाइनों को। लॉकडाउन का असर अररिया में है बेअसर ।-:najarianews.in

431 Views

कुमार प्रेम सागर (संवाददाता)
नजरिया न्यूज़ अररिया :अररिया बिहार में कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखकर राज्य सरकार के द्वारा बिहार में 16 दिनों के लिए जरूरी शर्तों के आधार पर संपूर्ण लाॅकडाउन लगाया गया। राज सरकार के निर्देशानुसार जरूरी गाइडलाइन जारी कर जिले में लोगों को लॉकडाउन का पालन कराने के लिए जिला पदाधिकारी प्रशांत कुमार सी एच खुद लोगों के बीच जाकर करोना से बचने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग मार्क्स पहने और जरूरतों पर ही घर से बाहर निकलने के लिए लोगों से अपील करते आ रहे हैं। जिले के तमाम आला अधिकारी और पुलिस प्रशासन के द्वारा प्रतिदिन सघन जांच अभियान चलाकर बिना किसी वजह से सड़क पर मटर गश्ती करते लोगों से फाइन लेकर चालान भी काटा जा रहा है और गाड़ियों को भी जप्त किया जा रहा है। मगर फिर भी जिले के आम आवाम सुधरने का नाम ही नहीं ले रही है और नहीं तो स्थानीय प्रशासन के गाइड लाइनों को मान रही है। जिले के पराया दुकान खुली बाजार सजी दिख रही है। नहीं तो लोग सोशल डिस्टेंसिंग क पालन कर रहे हैं ना तो मार्क्स की अनिवार्यता समझ रहे हैं।इसी वजह से जिले में दिन-प्रतिदिन करोना मरीजों की जनसंख्या में लगातार वृद्धि देखी जा रही है। जिले की सदर अस्पताल की स्थिति भी कुछ खास ठीक दिख नहीं रही है इन सब चीजों को देख कर भी लोग सुधर नहीं रहे हैं जरूरत है जिला प्रशासन थोड़ी सख्ती बरते जिससे अररिया जिले में करोना के बढ़ते संक्रमण को रोका जा सके और अररिया को करोना हॉटस्पॉट बनने से रोका जा सके।
* आम नागरिकों के लिए करोना के मूल मंत्र।
तत्वों की जानकारी रखकर और जरूरी सावधानी अपना कर आप खुद को और अपने आसपास के लोगों को सुरक्षित रख सकते हैं स्थानीय स्वास्थ्य एजेंसी की ओर से दी गई सलाह माने।
* कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए-
(1) बार-बार हाथ धोने के लिए साबुन और पानी या अल्कोहल वाला हैंड्र रब इस्तेमाल करें।
(2) अगर कोई खास और छीक रहा हो तो उससे उचित दूरी बनाए रखें और सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।
(3) अपनी आंख नाक या मुंह को ना छुऐ।
(4) खांसने या छीकने पर अपने मुंह को केहुनी से या टिशू पेपर से ढक ले।
(5) अगर आप अपने आप को ठीक नहीं महसूस कर रहे हैं तो घर पर रहे।
(6) अगर आप बुखार खांसी और सांस लेने में तकलीफ महसूस कर रहे हैं तो डॉक्टर के पास जाएं ,या पहले ही कॉल कर ले।
(7) स्थानीय स्वास्थ्य प्रधीकरण के निर्देश माने, क्योंकि (WHO) डब्ल्यूएचओ वर्ल्ड हेल्थ आर्गेनाइजेशन ने भी कहा है कि लोगों के नासमझी के कारण भारत में करोना तेजी के साथ फैल रहा है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!