गोपालगंज सत्तरघाट पुल को देख यशवंत सिन्हा ने कहा यह प्रायोजित लूट और घटिया निर्माण कार्य है ।

157 Views

ब्यूरो रिपोर्ट : देश के वरिष्ठ राजनेता पुर्व वित्त और विदेश मंत्री बिहार में नए राजनीतिक विकल्प के नायक बदलो बिहार – बनाओ बेहतर बिहार अभियान के मुखिया श्री यशवंत सिन्हा जी ने बिहार के गोपालगंज के चर्चित सत्तरघाट पुल के आठ वर्ष के निर्माण के बाद मात्र 27 दिनों में ही एक तरफ से बह जाने पर कहा की यह बिहार के विकास के नाम पर चल रहे कार्य व योजनाओं में प्रायोजित लूट खसोट भ्रष्टाचार और कमीशनखोरी का सबसे जीता जागता उदाहरण है। श्री यशवंत सिन्हा ने आगे कहा की बिहार के लिए तथाकथित इमानदारी दिखलाने वाले मुख्यमंत्री उपमुख्यमंत्री मंत्री‌ के साथ साथ उनके द्वारा संचालित प्रशासन से उक्त सत्तरघाट पुल के वर्तमान हालात को देखते हुए ज्वलंत सवाल किया की आखिर करोड़ों लोगों के आवाजाही वाले बिहार और उत्तर प्रदेश को जोड़ने वाले इस 264 करोड़ रुपए के बजट वाले सड़क पुल यही सुशासनी गुणवत्ता है। क्या इसी तरह के बिहार भर में पुलिस पुलिया सड़क भवन आदि का घटिया निर्माण सुशासन की सरकार में नहीं किया गया ? आज बिहार के 263.47 करोड़ एक बड़े घोटाले के रूप में इस सत्तरघाट पुल की चर्चा सरेआम होना बिहार में सुशासन के नाम पर लूट खसोट भ्रष्टाचार के बड़े अध्याय को साबित करने के लिए काफी है। नीतीश कुमार सुशील मोदी और उसके मंत्री सत्तरघाट पुल के लूट लापरवाही और भारी भ्रष्टाचार को छिपाने के लिए इस घटना पर वहां के आम जनता पर सरासर झूठे आरोप लगाकर उन्हें सत्तरघाट पुल के विघ्वंश में फंसाकर अपने बचने का नाजायज रास्ता निकालने चली है जो हम किसी भी हालत में होने नहीं देंगे । गोपालगंज सत्तरघाट पुल के हालात का जायजा लेने बिहार के प्रखर नेता पूर्व सांसद डॉ अरुण कुमार भी बिहार के नए राजनीतिक विकल्प के अगुआ नेतृत्वकर्ता के रुप में श्री यशवंत सिन्हा के साथ पटना से घटना स्थल तक गए। डॉ अरुण कुमार ने भी नीतीश सरकार पर कई गंभीर आरोप लगाया। श्री यशवंत सिन्हा और डॉ अरुण कुमार ने बिहार के नए राजनीतिक विकल्प यानी तीसरे मोर्चे की ओर से सत्तरघाट पुल के उच्चसतरीय व स्वतंत्र जॉच की जोरदार मांग की । साथ ही बिहार सरकार द्वारा इस संबंध में किसी भी आम जनता को फसाने पर उसे भारी परिणाम भुगतने की चेतावनी भी दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!